अगर आप है और कुत्ता पालने के शौकिन है तो यह खबर आपके लिए है कुछ खास

अगर आप नोएडा में रहते है और डाँग प्रेमी है तो यह खबर आपके लिए बेहद जरूरी है क्योंकि नोएडा प्राधिकरण अब सभी पालतू डाँग (कुता) के लिए रजिस्ट्रेशन अनिवार्य कर दिया है। बिना रजिस्ट्रेशन के अब आप डाॅगी नही पाल सकते है। एक बात और भी आपको जानना बेहद जरूरी है क्योंकि अगर आप अपने डाॅग को लेकर बाहर घुमाने जाते है और आपका डाॅगी खुले में पार्क या सड़क पर शौच करता है तो अब आपको जुर्माना भरना पड़ सकता है। यहाँ पर हम आपको बतायेंगे कि आप रजिस्ट्रेशन कैसे कर सकते है और खुले मे शौच करने पर आपको कितना जुर्माना देना पड़ सकता है ?
लेकिन उससे पहले देखते है यह विडियों जो कि नोएडा प्राधिकरण के सीओ रितु महेश्वरी जी ने मिडिया को बताया है।

विडियों जरूर देखे

असल में नोएडा प्राधिकरण नें पेट रजिस्ट्रेशन के लिए एक एप्प लांच किया है। जिसके तहत अब आप अगर डाॅगी पालने के शौकिन है तो रजिस्ट्रॅेशन कर सकते है। इस एप्प को आज नोएडा प्राधिकरण के सीओं के द्वारा लांच कर दिया गया। एप्प में रजिस्ट्रेशन और शिकायत दोनों की व्यवस्था है। क्योंकि अब आप बिना रजिस्ट्रेशन के पेट नही रख पायेंगे इसलिए यह जानना बेहद जरूरी है आपके लिए। लेकिन इस एप्प में एक और फिचर है वह फिचर क्या है ? वह फिचर है शिकायत करने की । अगर आप पहले की तरह मनमानी करते है औऱ डाॅगी से इधर-उधर शौच करवा देते है, जैसा कि पहले से होता रहा है, इसके बाद अगर किसी ने आपका शिकायत कर दिया तो आप पर अर्थ दंड लगाया जायेगा। पहली बारी में इसके लिए मामूली रखा गया है सिर्फ 100 रुपये। फिर भी नही माने और फिर आपने गलती दोहराया तो यह जुर्माना 200 रुपये का होगा। इंसान का फितरत है बार-बार एक ही गलती करता है। अगर आपने तीसरी बार भी गलती किया तो 500 रुपये का जुर्माना और इससे ज्यादा हुआ तो आपका लाईसेंस निरस्त कर दिया जायेगा और आप कुता नही पाल पायेंगे। कुछ लोग नाराज हो जायेंगे। क्योंकि मै कुता कह रहा हूँ । हिंदी में कुता ही कहते है अग्रेजी में डाॅगी कहते है। पेट का मतलब सभी पालतू जानवरों से है।
खैर अब एनएपीआर पर जाकर जल्दी से रजिस्ट्रेशन करवा लिजिए। अन्यथा शिकायत निरस्तारण हेतू टीम भी तैयार कर दिया गया है। जिसमें सहायक परियोजना अभियंता स्वास्थ्य विभाग प्रथम एवं सहायक परियोजना अभियंता दितीय को यह कार्य दिया गया है पोर्टल का एडमीन बनाया गया है। प्राधिकरण द्वारा नियुक्त एडमिन को निर्देशित किया गया है कि वह एक सप्ताह में रजिस्ट्रेशन और शिकायत निस्तारण करके पोर्टल पर सूचना अपलोड करे। इसके अलावा अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी (पी) को महीने में एक बार समीक्षा करने की जिम्मेदारी सौपी गयी है।

देर किस बात कि NAPR पर जाईये और जल्दी से रजिस्ट्रेशन कीजिए और प्राधिकरण से सर्टिफिकेट प्राप्त कीजिए।

ये विडियों अगर अच्छा लगा हो तो सब्सक्राईब करते हुए लाईक जरूर करे। इसके अलावा आप अपने पड़ोंसियों तक भी पहुँचा दीजिए शेयर करके ताकि जुर्माना से बचा जा सके। जल्दी कीजिए आफर सिर्फ एक सप्ताह के लिए है।

%d bloggers like this: