बैंकिंग शेयरों में बहार, टेलीकॉम को राहत पैकेज, बम-बम हुए बैंक

सरकार के बैड बैंक के प्रस्ताव से भी बैंकिंग शेयरों की रौनक बढ़ी है

टेलीकॉम सेक्टर को मिले राहत पैकेज ने बैकिंग सेक्टर में जान फूंक दी है। इसके अलावा सरकार के बैड बैंक के प्रस्ताव से भी बैंकिंग शेयरों की रौनक बढ़ी है। टेलीकॉम और बैंकिंग शेयरों की तेजी वजहों के बारे में विस्तार से बताते हुए सीएनबीसी-आवाज़ के यतिन मोता ने कहा कि टेलीकॉम को राहत से टेलीकॉम में एक्सपोजर वाले बैंक चमके हैं।

टेलीकॉम को राहत से बैंकिंग में बहार

Bank of India, SBI,Yes Bank, Indusind Bank और IDFC First Bank की टेलीकॉम सेक्टर में बड़ा एक्सपोजर है। यही कारण है कि टेलीकॉम को राहत से बैंकिंग में बहार आई है। इस राहत  पैकेज की बात करें तो Vodafone के सालाना कैश फ्लो में 23-24 हजार करोड़ रुपए की राहत मिली है। इंडस्ट्री का ढांचा ठीक करने के लिए 4 साल काफी लंबा समय होता है। इसका भी असर इस सेक्टर पर नजर आ रहा है। बता दें कि इस महीने Vodafone Idea 64 फीसदी भागा है। वहीं, अगस्त से अब तक Bharti Airtel 30 फीसदी दौड़ा है।

बैंक शेयरों में तेजी की दूसरी वजह Bad Bank के गठन से जुड़ी खबर है। सरकार Bad Bank के लिए लोन गारंटी दे सकती है। Bad Bank के प्रस्ताव से सरकारी बैंकों फायदा संभव है। टेलीकॉम पैकेज से भी सरकारी बैंकों को फायदा होगा। Vodafone अगले 4 साल तक आसानी से कर्ज चुका सकती है।

टेलीकॉम सेक्टर को लोन देने की बात करें तो एसबीआई ने इस सेक्टर को 37300 करोड़ रुपए, HDFC BANK ने 24515 करोड़ रुपए, AXIS BANK ने 17135 करोड़ रुपए, UNION BANK ने 15346 करोड़ रुपए, BoB ने 11471 करोड़ रुपए, PNB ने 7381 करोड़ रुपए, IDBI BANK ने 6172 करोड़ रुपए, CANARA ने 6080  करोड़ रुपए, YES BANK ने 5908 करोड़ रुपए का, KOTAK BANK ने 4676 करोड़ रुपए का और INDUSIND BANK ने 2484 करोड़ रुपए का कर्ज दे रखा है। टेलीकॉम सेक्टर को मिली रात से इन बैंकों के पैसे वापस मिलने की उम्मीद बढ़ी है, जिसके चलते आज इन शेयरों में तेजी आई है।

स्रोत : CNBC-Awaaz

%d bloggers like this: